लोकतंत्र और आँदोलन में👊👊 खटीक कौम की भागीदारी

मेरे खटीक कौम के भाइयों और बहनों आज में आप के साथ इस लेख के माध्यम से बहुत गंभीर विषय पर आप सब का ध्यान आकर्षित कर रहा हु ।

जैसा कि आप सब जानते है कि लोकतंत्र को लोगो का शासन कहा जाता है जो जाति लोकतंत्र में अपने अधिकारों के लिए सड़क पर आँदोलन करती है उस जाति को अपने अधिकार मिल जाते है ।

खटीक कौम तो अपने संवैधानिक अधिकार ही नही ले पाई है अभी तक। क्योकि 12 राज्यो में खटिक कौम sc में है बाकि राज्यो में obc में हैं । तो कौन करेगा आँदोलन तुम्हारे लिए। कोई भी नही ।

लोकतंत्र में अपने अधिकारों के लिए खुद लड़ना पड़ता है ।अपनी बात मनवाने के लिए बड़े आँदोलन करने पड़ते है । पिछले कुछ सालों से खटिक कौम पर अत्याचार बढ़ रहे है ।

उत्तर प्रदेश में खटीक कौम की बेटी के साथ बलात्कार हुआ । कोई विरोध नही , कोई आँदोलन नही । राजस्थान में खटिक कौम के बेटे को घर मे जिन्दा जला दिया गया । कोई विरोध नही , कोई आंदोलन नहीं ।औऱ लोकतंत्र में तो वही जाति आगे बढ़ती है जो सड़को पर उतरती है । अपनी ताक़त दिखाती है तो हम कब आदोलन करेगे , कब विरोध करेगे ।

हमे अपने सवैधानिक अधिकार दिलाएगा ,कौन अत्याचारों से मुक्ति दिलाएगा । अब समय जागने का है पिछले 71 सालों से तो हम सो ही रहे है । इसलिए मेरे खटीक कौम के लोगो जागो ओर आदोलन के माध्यम से अपनी ताकत दिखाओ । बहुत हो गए समान समारोह, बहुत ही गये शादी समारोह । अब तो समय आदोलन का आ गया ।

अगर आंदोलन नही करोगे तो पीटते रहो दूसरे लोगो से ।इसलिए मेरा खटिक कौम के सभी नेताओं , सामाजिक कार्यकर्ता, सामाजिक संगठनों से ये निवेधन है कि अब समाज हित को देखते हुए समाज को आँदोलन कारी बनाओ ।

ताकि खटीक कौम को अपने संवैधनिक अधिकार मिल सके ओर अपने ऊपर होने वाले अत्याचारो का विरोध कर सके । क्योकि लोकतंत्र में भागेदारी का बड़ा माध्यम आंदोलन है किसान आदोलन, जाट आंदोलन, दलित आंदोलन , महिला आंदोलन आदि देश मे आंदोलन चल रहे है तो कब होगा खटिक कौम का आँदोलन ।

निवेदक
कौम का सिपाही
डॉ रवि महेंद्रा
जय खटीक कौम
खटीक एकता जिन्दाबाद

लोकतंत्र और आँदोलन में👊👊 खटीक कौम की भागीदारी
5 (100%) 1 vote[s]

Leave a Reply