पिनाहट में दलित बस्ती पर ठाकुरों का हमला, गांव खाली करने को मजबूर।

रघुनाथपुरा, खटिक मोहल्ला, पिनाहट, आगरा की घटना के विषय मे जैसे ही मुझे 30 अगस्त को लगभग 3 बजे जानकारी हुई मैंने पिनाहट के श्री विमल खटिक के फोन पर उनसे बात की।

विमल आयु लगभग 23 वर्ष, ने मुझे बताया कि इस समय हमारे मोहल्ले पर ठाकुरों ने हमला बोला है। यह भी बताया कि दोपहर 12 बजे पिनाहट में मोहल्ले के पास मैदान में क्रिकेट खेल रहे खटिक युवकों के बीच ठाकुर समाज के कुछ दबंग नौजवान पहुंच कर जबर्दस्ती खेलने की कोशिश करने लगे,

इस पर झगडे की शुरुआत हुई फिर ठाकुर समाज के लोग इकट्ठे हो कर आ गए और भद्दी भद्दी गालियों और जाति सूचक अपमान के अपशब्दों के साथ मारपीट करने लगे और उस दौरान विमल के छोटे भाई गौरव को सर, आंख, हाथ में गम्भीर चोटें आईं। मरणासन्न अवस्था मे गौरव को थाने ले जाया गया जहां से पिनाहट अस्पताल ले जाया गया फिर वहां से आगरा शहर भेज दिया गया।

विमल से बात करने के बाद मैंने एसएसपी आगरा को फोन मिलाया परंतु वे अवकाश पर थे। फिर उस दिन जिले का चार्ज सम्हाल रहे एसपी सिटी श्री प्रशांत वर्मा को मैंने स्थिति से अवगत कराया तो उन्होंने तत्काल मौके पर फोर्स भेज दी। विमल को मैंने उक्त वार्तालाप से अवगत करा दिया और एफआईआर लिखाने के लिए थाना जाने को कहा।

इस बीच मैंने श्री प्रशांत वर्मा से कई बार बात करके हालात की जानकारी ली। उनसे बात से यह ज्ञात हुआ कि उस दिन पिनाहट के सीओ तथा आगरा के ग्रामीण क्षेत्र के एसपी जिले के बाहर ड्यूटी पर गए हुए हैं इसलिए पिनाहट में सीओ और एसपी ग्रामीण उपलब्ध नही हो सकते हैं।

करीब 5 बजे जब मैंने विमल से अपनी ओर से हालात पूंछे तो विमल ने बताया कि अभी ठाकुर फ़िर चढ़ आये हैं और फायरिंग कर रहे हैं हम सब दहशत में जान बचाते भाग रहे हैं और अब तो यहां से हम लोग भाग ही जायेंगे वर्ना मारे जाएंगे।

तब मैंने रेंज आईजी श्री लव कुमार से बात करने की कोशिश की परंतु जब कई बार कोशिश से भी बात नही हुई तो उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक को मैने ट्वीट करके अवगत कराया कि “रघुनाथपुरा, पिनाहट, आगरा के खटिकों पर दबंगों का आज दोपहर 12 बजे हमला, एक की हालत गम्भीर, 3 बजे दोबारा हमला कई चोटिल, तीसरी बार फायरिंग। दलित आतंकित, पलायन कर रहे।

पुलिस कार्यवाही की प्रतीक्षा।” मेरे ट्वीट पर पुलिस महानिदेशक ने रेंज आईजी आगरा को कार्यवाही हेतु निर्देशित किया।

मैंने पुलिस महानिदेशक कार्यालय में आई जी क्राइम से भी बात की। उन्होंने भी रेंज आईजी आगरा को निर्देशित किया।

आईजी आगरा से तब मेरी बात हुई और उन्होंने तत्काल फोर्स भेजने, सीओ फतेहाबाद, एसपी वेस्ट आगरा को पिनाहट भेज कर पीड़ितों की सुरक्षा और कानून व्यवस्था पूरी तरह से लागू करने, घायल गौरव की बेहतर तीमारदारी कराने के लिए चौकी इंचार्ज को लगाने का आश्वासन मुझे दिया साथ ही एफआईआर लिखने में कोई हीलाहवाली ना होने का भी आश्वासन दिया।

श्री लव कुमार ने उक्त सभी कार्यवाहियां पूरी तरह से सम्पन्न कराईं और निरंतर मुझे हालात से अवगत कराते रहे। मैं भी निरंतर श्री विमल को फोन करके अवगत कराता रहा, हिम्मत बंधाता रहा।

श्री विमल ने पुलिस कार्यवाही के सम्बन्ध में जब तक मुझे अपनी संतुष्टि से अवगत नहीं करा दिया तब तक मैं रात तक निरन्तर एसपी वेस्ट श्री अखिलेश और श्री विमल से सम्पर्क करता रहा।

द्वारा- श्री SN Chak जी

पिनाहट में दलित बस्ती पर ठाकुरों का हमला, गांव खाली करने को मजबूर।
4.7 (93.33%) 3 votes